About Me

इस साईट में शामिल हो

Thursday, 15 September, 2011

जनगणना पड़ रही है भारी

राजू एक बार जनगणना के लिए एक मोहल्ले में गया और शाम को बुरी हालत में ऑफिस पहुंचा. यह देख उसके ऑफिस वालों ने पूछा क्या हुआ.

राजू बोला, “साहब एक घर की कुंडी खटखटाई. एक महिला बाहर आई. मैंने पूछा, आपके कितने बच्चे हैं? वह बोली, चार. फिर मैंने पूछा, विवाहित हैं? बस फिर क्या था, उसका पूरा घर पिल पड़ा.“

अधिकारी ने कहा, “आप समझते नहीं हैं. पहले पूछा करो कि विवाहित हो या नहीं? फिर बच्चों के बारे में पूछा करो यार. “

अगले दिन राजू दूसरे क्षेत्र में पहुंचा. लेकिन फिर मार खा कर कर आया.

अधिकारी ने पूछा, “क्यों, अब क्या हुआ?”

राजू ने बताया, “साहब, जैसे आपने बताया, मैंने उसी तरह पूछा, विवाहित हो क्या? महिला ने कहा, नहीं. फिर मैंने पूछा, कितने बच्चे हैं? बस इतना पूछना था कि.. आप देख ही रहे हैं”

No comments:

Post a Comment